कोरोना के कारण देश में कहीं भी स्कूल शुरू नहीं हो पाए हैं। ऑनलाइन क्लासेज ही चल रही हैं। ऐसे में बच्चों पर क्या प्रभाव पड़ रहा है? उनके व्यवहार, सेहत या शरीर पर क्या फ़र्क आया है?, पेरेंट्स इस बारे में क्या सोचते हैं?, यह जानने के लिए दैनिक भास्कर देशव्यापी सर्वे कर रहा है।


पैरेंट्स का नाम

उम्र

लिंग

मोबाइल नं.

स्टेट

शहर का नाम

आपके बच्चे की क्लास

स्कूल

Questions

1. कोरोना महामारी के समय में बच्चों को कैसा लग रहा है?
2. स्कूल नहीं खुलने से बच्चों में क्या बदलाव आया है?(एक से अधिक विकल्प चुन सकते हैं।)
3. ऑनलाइन क्लास से कैसा महसूस कर रहे हैं?
4. ऑनलाइन क्लास के लिए कौन-सी डिवाइस उपयोग कर रहे हैं?
5. दो पीरिएड के बीच कितने समय का अंतर रहता है?
6. ऑनलाइन क्लासेज के बाद आपका बच्चा क्या सेल्फ स्टडी कर रहा है? अगर हां, तो कितने समय तक?
7. लॉकडाउन से पहले बच्चे का कुल स्क्रीन टाइम (सभी डिवाइस यानी टीवी, मोबाइल, लैपटॉप आदि सहित) कितने घंटे था, अब कितने घंटे है?
8. लॉकडाउन के दौरान बच्चों में इनमें से कौन से लक्षण आए हैं? (एक से अधिक विकल्प चुन सकते हैं।)
9. लॉकडाउन अवधि में बच्चे के व्यवहार में हुए बदलाव के लिए उपयुक्त विकल्प पर टिक करें -
10. मोबाइल का इस्तेमाल कम करने के लिए कहने पर बच्चे की प्रतिक्रिया क्या रहती है? (एक से अधिक विकल्प चुन सकते हैं।)
11. बच्चों के स्कूल नहीं जाने से आपको कैसा लगता है?
12. स्कूल 5 माह से बंद है, आगे क्या होगा, इसको लेकर क्या आप चिंतित है?